PM Matru Vandana Yojana 2024: आपके प्रारंभिक मातृत्व के लिए 5,000 और आपके बाद के गर्भधारण के लिए 6,000

PM Matru Vandana Yojana 2024: प्रधानमंत्री मातृत्व वंदन योजना भारत सरकार द्वारा देश में भूख और गरीबी से जूझ रही माताओं की सहायता के लिए शुरू की गई थी। इस पहल के तहत गर्भवती माँ को पहली बार 5000 रुपये और दूसरी बार 6000 रुपये की राशि में वित्तीय सहायता मिलती है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार सहायता राशि सीधे महिलाओं के बैंक खातों में जमा करती है। इस योजना के बारे में जानने के लिए लेख को शुरू से अंत तक पढ़ें, जिसमें यह भी शामिल है कि यह क्या है और इससे आपको कैसे लाभ होगा। कोई भी विवरण न छोड़ें।

What is Pradhan Mantri Maternity Vandana Yojana?

भारत सरकार की “प्रधानमंत्री मातृत्व वंदन योजना” कार्यक्रम उन गर्भवती माताओं की मदद करती है जो भूख और गरीबी से जूझ रही हैं। इस पहल के तहत माताओं को अपने दूसरे बच्चे के जन्म पर 6,000 रुपये और पहली गर्भावस्था के दौरान 5,000 रुपये की वित्तीय सहायता मिलती है। इसके अलावा, सरकार ने तय किया है कि यह राशि सीधे महिलाओं के खातों में जाएगी।

PM Matru Vandana Yojana
PM Matru Vandana Yojana

इसके अलावा, गांव या शहर में आंगनवाड़ी महिला कार्यकर्ता को इस प्रणाली के तहत पुरुष के जन्म तक महिला की देखभाल करने का काम सौंपा जाएगा। इसके अलावा, महिला को प्रसव प्रक्रिया से संबंधित सुरक्षा और संयम से संबंधित ढेर सारी जानकारी मिलेगी, जिससे उसके लिए सफल और स्वस्थ परिणाम सुनिश्चित होगा। महिला को प्रसव के दौरान सरकारी अस्पताल में निःशुल्क प्रसव देखभाल मिलेगी और उसे पूरी चिकित्सा सुविधा भी मिलेगी।

Main objective of Pradhan Mantri Matrutva Vandan Yojana

गर्भवती माताओं और शिशुओं के लिए बेहतर स्वास्थ्य सेवाएँ प्रधानमंत्री मातृत्व वंदन योजना का प्राथमिक लक्ष्य है। इसके तहत, कम आय वाले श्रमिकों और गर्भवती माताओं को स्वास्थ्य सेवा तक पहुँच बनाने के लिए सरकार से वित्तीय सहायता मिलती है।

यह कार्यक्रम महिलाओं को अस्पताल जाने और नियमित जांच करवाने के लिए प्रोत्साहित करके माताओं और उनके बच्चों के स्वास्थ्य में मदद कर सकता है। इस कार्यक्रम में भाग लेने वाली गर्भवती माताओं को बच्चे की देखभाल और प्रसवोत्तर सहायता के लिए वित्तीय सहायता मिलती है।

इससे गरीबी से संबंधित मृत्यु दर कम हो सकती है और स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुँच में सुधार हो सकता है। इस कार्यक्रम के तहत हर गर्भवती माँ और उसके बच्चे को बेहतरीन चिकित्सा देखभाल मिलेगी, जिससे मातृ स्वास्थ्य में सुधार होगा, नवजात मृत्यु दर कम होगी और वंचित श्रमिकों को वित्तीय सहायता मिलेगी।

Details of the financial assistance amount received under PM Matrutva Vandana Yojana

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तहत महिलाओं को दो किस्तों में नकद मदद दी जाती है। अगर कोई महिला पहली बार मां बनती है तो उसे 5000 रुपये मिलेंगे। इसके बाद अगर उसे दूसरी बेटी होती है तो सरकार उसे 6000 रुपये की मदद देगी। इस तरह इस योजना के तहत कुल 11000 रुपये मिलते हैं। पहली बार मां बनने वाली महिलाओं को इस योजना के तहत 5000 रुपये मिलते हैं।

Let us now try to understand it in a little more detail and for this you should understand the information given below:

  • जब आप पहली बार गर्भावस्था का पंजीकरण कराती हैं और कम से कम एक बार डॉक्टर को दिखाती हैं तो आपको 3,000 रुपये की सहायता राशि मिलती है।
  • जब आपका बच्चा पैदा होता है और उसे पहला टीका लगता है तो आपको 2,000 रुपये की सहायता मिलती है।
  • इसके अलावा, इस व्यवस्था के तहत, अगर आपकी दूसरी संतान लड़की है तो आपको 6,000 रुपये मिलेंगे। यह धनराशि आपके बैंक खाते में स्थानांतरित कर दी गई है।

Eligibility criteria required for application in Pradhan Mantri Matru Vandan Yojana

  • प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना के लिए आवेदन करने हेतु आवश्यक पात्रता आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए आपको नीचे दी गई सामग्री का ध्यानपूर्वक अध्ययन करना चाहिए।
  • इस कार्यक्रम के लिए आवेदक का भारत का नागरिक होना आवश्यक है।
  • महिला आवेदक की आयु कम से कम 19 वर्ष होनी चाहिए।
  • इस योजना में स्तनपान कराने वाली या गर्भवती महिलाओं को शामिल किया गया है।
  • यह कार्यक्रम आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और आंगनवाड़ी सहायकों के लिए खुला है।
  • आवेदन के लिए महिला का आधार कार्ड और बैंक खाता जुड़ा होना चाहिए।

Benefits of Matrutva Vandan Yojana

  • वित्तीय सहायता: गर्भवती माताओं को स्वयं और अपने अजन्मे बच्चे की उचित देखभाल करने में सक्षम बनाने के लिए, सरकार इन महिलाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करती है।
  • बेहतर स्वास्थ्य सेवाएँ: इस कार्यक्रम में भाग लेने वाली महिलाओं को अधिक उचित और आरामदायक चिकित्सा देखभाल मिलती है, जिससे उनके स्वास्थ्य को लाभ होता है।
  • जनसंख्या नियंत्रण: अतिरिक्त बच्चे पैदा करने की अनावश्यकता के बारे में व्यक्तियों को शिक्षित करके, यह कार्यक्रम जनसंख्या नियंत्रण में सहायता करता है।
  • शिक्षा: गर्भवती होने से महिलाओं को स्कूल जाने के लिए प्रोत्साहन मिलता है, जिससे वे अपने अजन्मे बच्चे को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने में सक्षम होती हैं।
  • स्वतंत्रता: वित्तीय स्वतंत्रता प्राप्त करने में महिलाओं की सहायता करके, यह कार्यक्रम उन्हें जीवन के निर्णय लेने की शक्ति देता है।

Information about documents required to apply for PM Maternity Vandan Yojana

  1. Aadhar card of pregnant woman
  2. Residence certificate
  3. Child’s birth certificate
  4. Income certificate
  5. Caste certificate
  6. Bank account passbook
  7. PAN card
  8. Mobile number
  9. Passport size photo

इसे भी पढ़ें – खेतों में सौर पैनल लगाने की 90% लागत सरकारी सब्सिडी से पूरी की जा रही है।

How to apply online for Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana 2024

  • आवेदन प्रक्रिया शुरू करने के लिए प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmmvy.wcd.gov.in/ पर जाएं।
  • वहां जाने के बाद आपको आधिकारिक वेबसाइट के होमपेज पर सिटीजन लॉगिन लिंक का चयन करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज आएगा, जहां आपको अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।
  • अपना सेलफोन नंबर दर्ज करने के बाद, “सत्यापन करें” चुनें।
  • सेलफोन नंबर सत्यापित होने के बाद अब आपके सामने एक पंजीकरण फॉर्म दिखाई देगा, और आपको इसे पहले खोलना होगा।
  • कृपया इस पंजीकरण फॉर्म पर मांगी गई हर जानकारी भरें।
  • एक बार जब आप आवेदन पत्र पूरा कर लेते हैं और सभी आवश्यक जानकारी दर्ज कर लेते हैं, तो आपको अब प्रत्येक दस्तावेज़ को आधिकारिक वेबसाइट पर अलग-अलग अपलोड करना होगा।
  • जब भी आपका आवेदन जमा करने के लिए तैयार हो, तो सबमिट पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आप अपना आवेदन जमा करें और एक पंजीकरण संख्या प्राप्त करें, जिसे आपको गोपनीय रखना होगा।
  • आवेदन प्रक्रिया पूरी करने के बाद, वित्तीय सहायता राशि आपके बैंक खाते में स्थानांतरित कर दी जाएगी।

 

2 thoughts on “PM Matru Vandana Yojana 2024: आपके प्रारंभिक मातृत्व के लिए 5,000 और आपके बाद के गर्भधारण के लिए 6,000”

Leave a Comment